दुनिया में 50 करोड़ कोरोना मरीज : पहले एक करोड़ संक्रमित 222 दिन में मिले थे, इस बार 62 दिन में ही दस करोड़ केस बढ़ गए

सार

10 देश ऐसे हैं, जहां कोरोना की चौथी लहर ने दस्तक दे दी है। इनमें अमेरिका, ब्राजील, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया, रूस, इटली, फ्रांस, जापान, थाईलैंड, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रिया शामिल हैं। 

ख़बर सुनें

हम सभी के लिए चिंता की खबर है। दुनियाभर में सोमवार को कोरोना मरीजों का आंकड़ा 50 करोड़ के पार हो गया। पहले केस से 50 करोड़ मरीज होने में महज 877 दिन लगे। खैर, राहत की बात ये है कि इनमें से 44 करोड़ 88 लाख लोग ठीक भी हो चुके हैं। लेकिन इसके साथ दुखद खबर भी है। अब तक संक्रमण के चलते दुनिया के 62 लाख लोगों ने जान गंवा दी है। ये आंकड़े worldometers.info/coronavirus ने जारी किए हैं।

आइए जानते हैं दुनिया में कोरोना ने कैसे पांव पसारा? 
 
17 नवंबर 2019 : कोरोना संक्रमण का पहला केस चीन के वुहान शहर में मिला था। तब दुनिया के बाकी देश इससे अनजान थे। खुद चीन ने भी इसकी जानकारी किसी को नहीं दी। हालांकि, साल खत्म होते-होते अमेरिका समेत कई देशों को इसकी जानकारी लग गई। 
31 दिसंबर 2019 : वुहान में एकसाथ कई लोग संक्रमित पाए गए। 
01 जनवरी 2020 : विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ ने आपातकाल बैठक बुलाई। इसमें सभी देशों के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया। 
04 जनवरी 2020 : डब्ल्यूएचओ ने सोशल मीडिया के जरिए दुनिया को कोरोनावायरस के बारे में बताया। 
12 जनवरी 2020 : चीन ने सार्वजनिक तौर पर कोरोनावायरस के जेनेटिक सिक्वेंस की जानकारी दी। 
13 जनवरी 2020 : चीन के बाहर थाईलैंड में पहला केस मिला। 
14 जनवरी 2020 : डब्ल्यूएचओ ने पूरी दुनिया को बताया कि ये वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है। इसके लक्षण और बचाव के तरीकों की जानकारी दी। 
30 जनवरी 2020 : भारत के केरल में पहला केस मिला। 
30 जनवरी 2020 : डब्ल्यूएचओ ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी जारी कर दी। 
11 मार्च 2020 : डब्ल्यूएचओ ने कोरोनावायरस को महामारी घोषित कर दिया।  
 
17 नवंबर को कोरोनावायरस का पहला केस चीन में मिला था। इसके अगले 222 दिन यानी 25 जून 2020 तक दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा एक करोड़ हो गया। एक से 10 करोड़ मरीज होने में महज 214 दिन लगे। इसके बाद संक्रमण की रफ्तार ने ऐसी तेजी पकड़ी की महज 190 दिन में दुनियाभर में मरीजों का आंकड़ा 20 करोड़ हो गया। 

20 से 30 करोड़ संक्रमित होने में 155 दिन लगे। इसके बाद संक्रमण ने ऐसा कहर बरपाया कि महज 34 दिन में ही 10 करोड़ नए मरीज मिल गए। इसी के साथ संक्रमितों की संख्या 40 करोड़ पहुंच गई। अब 62 दिन में 40 करोड़ का ये आंकड़ा बढ़कर 50 करोड़ हो गया है।  
 
कोरोना का कहर सबसे ज्यादा अमेरिका पर बरसा। यहां अब तक 8.20 करोड़ लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। अच्छी बात ये है कि इनमें 7.99 करोड़ लोग ठीक भी हो गए, लेकिन 10 लाख लोगों ने जान गंवा दी। 

सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले में भारत दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 4.30 करोड़ लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 4.25 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 5.21 लाख लोगों की जान चली गई। अब भारत में महज 11 हजार लोग संक्रमित हैं। इनका इलाज चल रहा है। 
 
अब हर रोज 6 से 10 लाख लोग संक्रमित पाए जा रहे हैं, जबकि 1500 से तीन हजार मौतें हो रहीं हैं। अच्छी बात ये है कि संक्रमण से प्रतिदिन 6 से 7 लाख लोग रिकवर भी हो रहे हैं। 

हालांकि, चिंता की बात ये है कि 10 देश ऐसे हैं, जहां कोरोना की चौथी लहर ने दस्तक दे दी है। इनमें अमेरिका, ब्राजील, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया, रूस, इटली, फ्रांस, जापान, थाईलैंड, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रिया शामिल हैं। 

पिछले सात दिनों का आंकड़ा देखें तो सबसे ज्यादा 14 लाख मरीज साउथ कोरिया में मिले। इस बीच, यहां 2100 लोगों की जान भी चली गई। जर्मनी में सात दिनों में 10 लाख और फ्रांस में नौ लाख लोग संक्रमित पाए गए। 
 

विस्तार

हम सभी के लिए चिंता की खबर है। दुनियाभर में सोमवार को कोरोना मरीजों का आंकड़ा 50 करोड़ के पार हो गया। पहले केस से 50 करोड़ मरीज होने में महज 877 दिन लगे। खैर, राहत की बात ये है कि इनमें से 44 करोड़ 88 लाख लोग ठीक भी हो चुके हैं। लेकिन इसके साथ दुखद खबर भी है। अब तक संक्रमण के चलते दुनिया के 62 लाख लोगों ने जान गंवा दी है। ये आंकड़े worldometers.info/coronavirus ने जारी किए हैं।

आइए जानते हैं दुनिया में कोरोना ने कैसे पांव पसारा? 

 


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/rvpgmedi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5275